हमारे बारे में

‘लोक पंचायत’ पंचायतीराज संस्थाओं की सुदृ़ढता और सम्पूर्ण ग्रामीण विकास के साथ ही कृषि, सहकारिता, पशुपालन, पर्यावरण, शिक्षा, युवा, महिला, सामाजिक न्याय, खाद्य प्रसंस्करण तथा लघु, कुटीर व ग्रामोद्योग क्षेत्र की उन्नति, विकास और समृद्धि के मार्ग को प्रशस्त करने के सकारात्मक मार्गदर्शन के प्रति समर्पित प्रमुख राष्ट्रीय समाचार पत्र है।

 

‘लोक पंचायत’ ने जहां एक तरफ देश की विभिन्न जिला पंचायतों, क्षेत्र पंचायतों एवं ग्राम पंचायतों के स्तर पर तथा कृषि, सहकारिता एवं शिक्षा क्षेत्र में अपनी उपस्थिति बनाकर उनके बीच लोकप्रियता अर्जित की है, वहीं दूसरी तरफ सभी वर्गों के राष्ट्रवादी, रचनात्मक एवं प्रगतिशील सोच के लोगों में भी अपनी जगह बनाने में सफलता के साथ एक नया कीर्तिमान स्थापित करने की दिशा में अग्रसर है।

 

‘लोक पंचायत’ देश के अन्य क्षेत्रों के अलावा सभी हिन्दी भाषी राज्यों में प्रमुख रूप से पढा जाने वाला समाचार पत्र है। इसे शहरों के अतिरिक्त मुख्यतः ग्रामीण क्षेत्रों में सर्वाधिक पसंद किया जा रहा है। यह वहां पहुंचने वाले सबसे बड़े राष्ट्रीय समाचार पत्र के रूप में बहुत तेजी से उभर रहा है तथा देश की विभिन्न 12 क्षेत्रीय भाषाओं में प्रत्येक (249225) ग्राम पंचायत तक पहुँच बनाने के लिए लगातार प्रयासरत है।