फिर ठगे गये किसान - देश में आया 32 हजार टन घटिया यूरिया

अनिल सिंह, एम. ओबेद, नई दिल्ली

कृषि प्रधान देश भारत में किसानों की बदहाल स्थिति आज एक ज्वलंत मुद्दा है। इसके बावजूद कई कम्पनियां नकली और घटिया खाद, बीज व कीटनाशक बेंच कर किसानों का खून चूस रहे हैं। पिछले दिनों इसी तरह इंडियन पोटाश लिमिटेड द्वारा विदेश से घटिया किस्म का यूरिया मंगाने […]

क्या भ्रष्टाचार की गंगोत्री है संघ लोक सेवा आयोग?

नई दिल्ली, लो.पं. ब्यूरो

भर्ती लोक प्रशासन की रीढ़ होती है। भारत में संघीय स्तर पर आई.ए.एस. अधिकारियों की भर्ती और पदोन्नति के लिए संविधान द्वारा संघ लोक सेवा आयोग तथा राज्य स्तर के लोक सेवकों की भर्ती की जिम्मेदारी राज्य लोक सेवा आयोग को दी गई है। आज सर्वव्यापी भ्रष्टाचार में लोक सेवकों की […]

परीक्षा प्रणाली के लोकतंत्रीकरण की आवश्यकता : ट्रांसपेरेंसी सीकर्स - अमित कुमार

भ्रष्टाचार भारतीय जीवन यापन प्रणाली का अंग बन चुका है। साठ वर्षों में भ्रष्टाचार एवं सूचना के अधिकार के बीच सह-सम्बध्दता भारतीय परीक्षा व्यवस्था में देखने को मिली है।

भारत की पूरी परीक्षा व्यवस्था लोकतंत्र के अभाव का शिकार रही है। सैध्दांतिक रूप से तो हम लोकतांत्रिक देश के निवासी हैं, लेकिन पिछले साठ वर्षों […]